र्शिर्डी- साईचा अदभुत चमत्कार भाविकानी अनुभवली साईची लिला sp 24 news

author SP 24 News   1 год. назад
355,878 views

1,356 Like   287 Dislike

अहमदनगर : दहावीत पास झाल्यानंतर छोटा पुढारी घनश्याम दरोड...

अहमदनगर : महाराष्ट्रतील छोटा पुढारी म्हणून नावलौकिक मिळवलेल्या घनश्याम दरोडेला दहावीत 51 टक्के मिळाले आहेत. शारीरिक आजार आणि गावातील विजेच्या समस्यांवर मात करुन त्याने हे यश मिळवलं. घनश्यामची मूर्ती लहान असली तरी त्याची किर्ती महान आहे. दहावीच्या निकालानंतर एबीपी माझाने घनश्यामसोबत खास बातचीत केली. अभ्यासात आलेले विविध अडथळे, शेतकरी संप, ग्रामीण भागातील विद्यार्थ्यांच्या समस्या या सर्वांवर त्याने सडेतोड उत्तरं दिली.

Miracle In Shirdi || Shirdi Sai baba real miracle

Om sai ram. A recent sai baba miracle in Sai Temple. All devotiees can take a Darshan and Feel the presence of baba.

सुख समृद्धी साठी आपल्या घराच्या मुख्य दरवाजाच्या बाबती...

9892156163 - Astro Vastu Consultant Nayan Dhotre. दर सोमवारी संध्याकाळी ५ ते ६ या वेळेत आपले, व्हिडीओ च्या विषयाचे प्रश्न आपण थेट मला फोन करून विचारू शकता , शिवाय आपण विचारलेल्या काही प्रश्नांची उत्तरे दर महिन्यातून पहिल्या शनिवारी , माझ्या व्हिडीओ च्या एका भागातून दिली जातील . धन्यवाद आपल्या प्रतिसादाबद्दल ! ! !

तिरुपति बालाजी मंदिर के 11 रहस्य जिन्हे जानकर आप दंग रह जा...

तिरुपति बालाजी मंदिर के 11 रहस्य जिन्हे जानकर आप दंग रह जाएंगे | 11 Hidden Miracles of Tirupati Balaji | Tirupati Balaji ke chamatkar | Miracle in Tirumala - Tirupati भगवान तिरुपति बालाजी को भारत के सबसे अमीर देवताओं में से एक माना जाता हैं। तिरुपति जी के दरबार में बड़े से बड़े अमीर और गरीब दोनों जाते हैं, हर साल लाखों लोग भगवान का आशीर्वाद लेने के लिए तिरुमाला की पहाड़ियों पर भीड़ लगाते हैं। माना जाता है कि भगवान तिरुपति बालाजी अपनी पत्नी पद्मावती के साथ तिरुमला में निवास करते हैं। ऐसे कहा जाता है कि यदि कोई भक्त कुछ भी सच्चे दिल से मांगता है, तो भगवान उसकी सारी मुरादें पूरी करते हैं। और वे लोग जिनकी मुराद भगवान पूरी कर देते हैं, वे अपनी इच्छा अनुसार वहां पर अपने बाल दान कर के आते हैं। 1.कहा जाता है की इस मंदिर मे वेंकटेश्वर स्वामी की मूर्ति पर लगे हुए बाल असली है और ये कभी भी उलझते नही हैं और हमेशा मुलायम रहतें है, लोगों का मानना है की ऐसा इसलिए है क्योंकि यहाँ पे खुद भगवान वीराजते हैं। 2कहा जाता है कि जब 18 शताब्दी में मंदिर की दिवार पर ही कुछ लोगों को फांसी दी गयी थी तबसे खुद वेंकटेश्वर स्वामी जी मंदिर में प्रकट होते रहते हैं, इस मंदिर को पूरे 12 वर्षों के लिए बंद कर दिया गया था, क्योंकि उस वक्त वहाँ के राजा ने कुल१२ लोगो को मौत की सज़ा दिया और उन्हें मंदिर के गेट पे लटका दिया। 3अगर आप मंदिर में जाते हैं तो भगवान बालाजी की मूर्ति पे अगर कान लगा के सुना जाए तो आप आश्चर्य-चकित हो जाएँगे क्योंकि जब आप कान लगाएँगे तो आपको समुद्र की आवाज़ सुनाई देगी और इसी कारण वश हमेशा बालाजी की मूर्ति हमेशा ही नम रहती हैं, आपको यहाँ एक अजब सी शान्ति प्रतीत होगी। 4मंदिर मे मुख्य द्वार के दरवाजे के दाईं ओर एक छड़ी है। इस छड़ी के बारे मे कहा जाता है की इस छड़ी से बालाजी के बाल रूप मे पिटाई की गई थी जिस कारण-वश उनकी ठोड़ी पे चोट लग गई तबसे आज तक उनके ठोड़ी पे हमेशा से चंदन का लेप लगाया जाता है, ताकि उनका घाव भर जाए। 5बालाजी के इस मंदिर मे एक दिया हमेशा जलता रहता है, इसमें ना कभी तेल डाला जाता ना ही घी, सोचने और आश्चर्य करने वाली बात ये है की कोई भी नहीं जानता है कि यह दीया कब और किसने जलाया था, क्योंकि ये दीया वर्षों से जलता ही आ रहा है। 6अगर आप दर्शन करने के लिए बालाजी के मंदिर मे जाएँगे तो आश्चर्य मे पड़ जाएँगे क्योंकि जब आप बालाजी के मूर्ति को गर्भ-गृह से देखेंगे तो भगवान की मूर्ति मंदिर के गर्भ-गृह के मध्य मे स्थित पाएंगे, लेकिन जब आप इसे बाहर आकर देखेंगे तो पाएँगे की मूर्ति मंदिर के दाईं और स्थित है। 7भगवान बालाजी की प्रतिमा पर एक खास तरह का पचाई कपूर लगाया जाता है, अगर इसे किसी भी पत्थर पर चढ़ाया जाता हैं तो वो कुछ समय के बाद ही चटक जाता है किन्तु भगवान की प्रतिमा को कुछ नहीं होता है। 8मंदिर में मूर्ति पर जीतने भी फूल-पत्ती या तुलसी के पत्ते चढ़ाते हैं वो सबके सब भक्तों को ना देकर पीछे उपस्थित एक जलकुंड है उन्हें वही पीछे देखे बिना उनका विसर्जन किया जाता है, क्योंकि पुष्प को देखना और रखना अच्छा नही माना जाता है। 9प्रत्येक गुरुवार के दिन तिरुपति बालाजी को पूर्ण रूप से पूरा का पूरा चंदन का लेप लगाया जाता है और जब उसे हटाया जाता है तब वहाँ खुद-ब-खुद ही माता लक्ष्मी की प्रतिमा उभर आती हैं ये आज तक नही पता चल पाया हैं ऐसा क्यों होता हैं और भगवान तिरुपति बालाजी को प्रतिदिन नीचे धोती और उपर साड़ी से सजाया जाता है। 10मंदिर से २३ किलोमीटर दूर एक गाँव है, उस गाँव में बाहरी व्यक्ति का प्रवेश निषेध है। वहाँ पर लोग नियम से रहते हैं। वहीँ से लाए गये फूल भगवान को चढाए जाते है और वहीँ की ही वस्तुओं को चढाया जाता है जैसे- दूध, घी, माखन आदि। 11तिरुपति मंदिर में भक्तों द्वारा बहुत दान किया जाता है। मान्यतानुसार इस मंदिर में दान की परम्परा विजयनगर के राजा कृष्णदेवराय के समय से चली आ रही है। राजा कृष्णदेवराय इस मंदिर में हीरे, सोना-चाँदी आदि का बहुत दान करते थे। Translation in English Lord Tirupati Balaji is considered one of India's richest deities. In the Court of Tirupati, both big and rich are rich, millions of people throng the hills of Tirumala to take God's blessings every year. It is believed that Lord Tirupati Balaji lives in Tirumala with his wife Padmavati. It is said that if a devotee demands anything from a true heart, then God fulfills all his prayers. And those people whose prayers are fulfilled by God, they come by donating their hair according to their will. 1. It is said that the hair on Venkateshwara Swami's statue is real in this temple and they are never confused and always remain soft, people believe that it is because here itself Lord Vrajata. 2 It is said that when some people were hanged on the wall of the temple in the 18th century, Venkateswara Swamiji himself appeared in the temple, this temple was closed for 12 years, because at that time there The king of 12 sentenced to death and hanged him at the temple gate. 3 If you go to the temple then you will be surprised if you hear the idol of Lord Balaji, then you will be amazed because when you listen, you will hear the voice of the sea and that is why always Balaji's idol always remains moist. There you will find an amazing peace here. 4 There is a stick on the right side of the door of the main entrance to the temple. It is said about this stick that the stick was thrown out in Balaji's hair form because of which the tissue was injured on his chin, till now his chin is always applied to the sandal paste so that his wounds are filled Go.

पोलीस मारूती मोटेने मयत श्रीकांत माळीकडे केली ५०,०००/-ची ...

Comments for video: